यूजीसी ने जारी की 24 फर्जी यूनिवर्सिटीज की लिस्ट, छात्र दाखिला लेते समय रहें अलर्ट

करियर डेस्क, खबरिया चौपाल || स्कूल स्टूडेंस्ट 12वीं के बाद एक अच्छे कॉलेज और एक अच्छी यूनिवर्सिटी में दाखिले की तैयारी करते हैं। जिसे सही सलाह मिल जाती है वो एक सही यूनिवर्सिटी का चुनाव करता है और जिसे सलाह नहीं मिल पाती वो ऐसी यूनिवर्सिटी में भी दाखिला ले लेते हैं जिनकी मान्यताएं नहीं होती। ये यूनिवर्सिटीज उन दुकानों की तरह होती हैं जिनके नाम तो ऊंचे होते हैं और पकवान फीके।

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग यानि यूजीसी ने ऐसी ही 24 फर्जी यूनिवर्सिटीज की सूची तैयार की है जो बच्चों के भविष्य से खिलवाड़ कर रही हैं। जिन्हे सिर्फ मोटी रकम कमाने से मतलब है लेकिन उनकी मान्यताएं नहीं हैं। इन 24 यूनिवर्सिटीज में 8 यूनिवर्सिटीज तो राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में ही हैं। यूजीसी ने सूची जारी करते हुए जो नोटिस दिया है उसमें कहा गया है कि स्टूडेंट्स और लोगों को सूचित किया जाता है कि देश के अलग अलग राज्यों में 24 ऐसी यूनिवर्सिटीज हैं जो यूजीसी के नियमों का उल्लंघन कर के चल रही हैं। यूजीसी ने आगे कहा कि ऐसी सभी यूनिवर्सिटीज को बिना नियमों के चल रही हैं उन्हे फर्जी घोषित किया जाता है। ऐसी यूनिवर्सिटीज को किसी भी तरह की डिग्री प्रदान करने का हक नहीं है।

बात करें राज्यों में चल रही फर्जी यूनिवर्सिटीज को सबसे पहले राजधानी दिल्ली की बात करते हैं। जहां दिल्ली में यूनाईटेड नेशंस यूनिवर्सिटी, इंडियन इंस्टीट्यूशन ऑफ साइंस एंड इंजीनियरिंग, विश्वकर्मा ओपेन यूनिवर्सिटी फोर सेल्फ इम्प्लॉयमेंट, वाराणसीय संस्कृत विश्वविद्यालय, आध्यात्मिक विश्वविद्यालय, वोकेशनल यूनिवर्सिटी, एडीआर- सेंट्रिक जूरिडिकल यूनिवर्सिटी और कॉमर्शियल यूनिवर्सिटी नाम से फर्जी यूनिवर्सिटीज चलाई जा रही हैं।

अब बात करें उत्तर प्रदेश की फर्जी यूनिवर्सिटीज की तो यूपी में महिला ग्राम विद्यापीठ, गांधी हिंदी विद्यापीठ, नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ इलेक्ट्रोकांपलेक्स होम्योपैथी, नेताजी सुभाषचंद्र बोस यूनिवर्सिटी, उत्तर प्रदेश विश्वविद्यालय, महाराणा प्रताप शिक्षा निकेतन विश्वविद्यालय, इंद्रप्रस्थ शिक्षा परिषद, गुरुकुल विश्वविद्यालय शामिल हैं।

वहीं बिहार में मैथली विश्वविद्यालय

कर्नाटक में बड़ागानवीसरकार वर्ल्ड ओपन यूनिवर्सिटी एजुकेशन सोसायटी

केरल में सेंट जॉन विश्वविद्यालय

मध्यप्रदेश में केसरवानी वद्यापीठ

महाराष्ट्र में राजा अरेबिक यूनिवर्सिटी

तमिलनाडु में डीबीडी संस्कृत विश्वविद्यालय

पश्चिम बंगाल में इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ आल्टरनेटिव मेडिसिन, इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ आल्टरनेटिव मेडिसिन एंड रिसर्च

उड़ीसा में नवभारत शिक्षा परिषद

लिस्ट में दी गई सभी यूनिवर्सिटी फर्जी हैं। छात्र सोच समझ कर ही यूनिवर्सिटी का चुनाव करें। छात्र पहले अच्छी तरह से परख लें कि जिस यूनिवर्सीटी में दाखिले के लिए वे आवेदन कर रहे हैं वे यूजीसी से मान्य है या नहीं। बता दें कि यूजीसी हर साल इसी तरह फर्जी यूनिवर्सिटीज की लिस्ट जारी कर छात्रों को सूचित करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest Updates |