भारत की गिरफ्त में आया जाकिर नाइक

श्री कृष्ण, नई दिल्ली || विवादित इस्लामिक प्रचारक जाकिर नाइक को पकड़ने में भारत कामयाब हो गया है। हालांकि भारत कई दिनों से जाकिर नाइक को पकड़ने की कोशिश कर रहा था। बताया जा रहा हैं कि जाकिर नाईक को आज रात मलेशिया से पकड़कर भारत लाया जायेगा, लेकिन इस बीच खबर ये  आ रही है कि जाकिर ने भारत आने से मना कर दिया है।

एनआईए के मुताबिक जाकिर नाइक युवाओं में कट्टरवाद फैलाने का काम करता था। इसलिए भारत बहुत समय से उसे पकड़ने की कोशिश कर रहा था। हालांकि भारत अब उसे पकड़ने में कामयाब हो गया है। बताया जा रहा हैं कि इस्लामिक प्रचारक जाकिर नाइक पर बांग्लादेश में हुए आतंकी हमलें का आरोप लगा हुआ है। इतना ही नहीं जाकिर नाइक के एनजीओ पर चंदा लेकर आतंकवाद फैलाने का आरोप भी लगा हुआ था। नाइक के एनजीओ (इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन) पर केंद्र ने पांच साल तक का बैन लगाया हुआ है। क्योंकि वह युवाओं में कट्टरता को बढ़ावा देकर साम्प्रदायिकता फैलाने की कोशिश करता था।

आपको बता दें कि नाइक पर कनाडा, यूके सहित पांच देशों में बैन है। जाकिर पर चार्टशीट तक दाखिल हो चुकीं है। एएनआई बहुत समय से जाकिर की तलाश में थी। सूत्रों के मुताबिक मुंबई में जाकिर नाइक के प्रवचनों को सुनकर चार छात्र आईएसआईएस में शामिल हुए थे।

2016 में बांग्लादेश में हुए आतंकी हमले में नाइक का हाथ बताया गया था। 2016 में केस दर्ज होने के दौरान वह भारत से मलेशिया चला गया। हालांकि नाइक ने मलेशिया में स्थायी निवास के लिए आवेदन भी किया था। बताया जा रहा हैं कि मलेशिया में नजीब रज्जाक की सरकार बनने के बाद वहां की नीति भी बदल गयी। जिसके चलते जाकिर को पकड़ लिया गया।

वहीं न्यूज एजेंसी से बात करते हुए एनआईए के प्रवक्ता आलोक मित्तल ने बताया कि उन्हें जाकिर नाइक को भारत लायें जाने के बारे कोई जानकारी नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest Updates |