बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ पर हुआ सफल कार्यक्रम

अखिल सिंघल, रीडर्स मेल ।। पश्चिमी दिल्ली के सूरजमल स्टेडियम में वुमेनाइट टीम और पश्चिमी दिल्ली के जिला मजिस्ट्रेट के सहयोग से शनिवार को ‘उड़ान’ बेटी बचाओ और बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य समाज में लोगों की रूढ़िवादी सोच में बदलाव लाना, लिंगभेद और समानता के प्रति जागरूक करना था। वहीं इस कार्यक्रम में स्कूल छात्राओं के साथ उनके माता-पिता भी शामिल हुए। जो कि सभी छात्राओं के लिए बहुत ही अच्छी और सम्मानजनक बात रही।

इस कार्यक्रम में खासकर उन लड़कियों को बुलाया गया था जिन्होंने दिल्ली ही नहीं बल्कि पूरे भारत में अपना नाम रोशन किया है। जैसे सौम शर्मा जिन्होंने यूपीएसी में 9वी रैंक के साथ टॉप किया। इनके अलावा नेहा जैन, आकृति बंसल और दूसरी ऐसी लड़कियां भी मौजूद रहीं। कार्यक्रम की खास बात ये रही कि इसमें मौजूद छात्राओं को अपनी बातों को रखने का एक मंच मिला। वहीं, कई स्कूल की लड़कियों ने महिला सुरक्षा जैसे गंभीर विषयों पर बात करते हुए इसके बचाव के उपाय भी बताए।

कार्यक्रम में भारत की छवि और संस्कृति को दर्शाने के लिए भारत का प्रसिद्ध राजस्थानी कत्थक नृत्य दिखाए गया। वहीं कॉलेज के छात्रों ने नुक्कड़ नाटक कर लोगों को सन्देश देने का प्रयास किया। जिसमें लड़कियों के प्रति पढ़ाई को लेकर व उनके ख़िलाफ़ रूढ़िवादी सोच रखने वाले दृश्य को बहुत ही अदभुद तरह से दिखाया गया।

कार्यक्रम की शुरुआत मुख्य अतिथि के रुप में शिरकत करने वाले हुए दिल्ली सरकार के मंत्री सतेंद्र जैन ने की। उन्होंने दूसरे अतिथियों के साथ मिलकर सरस्वती की आराधना करते हुए दीप प्रज्वलित किया।  इसके अलावा परवेश शर्मा, संजय गोयल, सुनील दास कार्यक्रम में भी शिरकत करने पहुंचे।

सतेंद्र जैन ने अपने भाषण में कहा कि समाज की दिशा तय करने में लड़कियों की बहुत बड़ी भागीदारी रही है। अतिथि के तौर पर आए परवेश शर्मा ने बताया कि हमारी देश की बेटियों ने जिस तरह से कुछ सालों में तरक्की की है वह काबिल ए तारीफ है। उन्होंने स्कूली छात्राओं को बेहतर भविष्य के लिए प्रेणादायक बातें बताई। सुनील दास ने अपने वक्तव्य में बताया कि पढ़ाई के साथ-साथ लड़कियों की खेलों में बढ़ती भागीदारी के लिए उनकी सराहना की।

कार्यक्रम में स्कूली छात्राओं द्वारा की गई मेहनत को स्टॉल के जरिए पेश किया गया। स्कूली छात्राओं द्वारा बनाई गई पेपर आर्ट, बैग और फ़ोटो स्टैंड जैसी अन्य चीजें लगाई गयी थी। लड़कियों की सजावट के समान भी यहां लगाए गए थे। इस कार्यक्रम में स्कूल की छात्राओं को सोम मिश्रा जैसी होनहार और अन्य ऐसी प्रतिभाशाली लड़कियों की बातों से बहुत कुछ सीखने और समझने को मिला।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest Updates |