जन-जन तक पहुंचेगी योगी सरकार की ‘लोक कल्याण मित्र’ योजना

पूजा सिंह, नई दिल्ली ।। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने लोक कल्याण मित्र कार्यक्रम के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। आपको बता दें मंगलवार को लखनऊ में हुई मंत्रिपरिषद की बैठक में प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ये फैसला लिया। यह कार्यक्रम सरकार की बनाई गई योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने के लिए आयोजित की गई है। यह कार्यक्रम युवाओं को रोजगार पाने के लिए एक सुनहरा मौका है।

वहीं भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता सुलभ मणि त्रिपाठी ने कहा है कि केंद्र सरकार और राज्य सरकार की जितनी भी योजनाओं का आयोजन किया जाएगा उसका उपयोग गरीब और पिछड़े वर्गों की मदद करने के लिए किया जाएगा और साथ ही उनके विकास से जुड़े विषयों पर भी ध्यान दिया जाएगा। बता दें कि लोक कल्याण मित्र से जुड़े लोग दलित लोगों का मार्गदर्शन करेगें कि किस तरह से वे लोग सरकार की इन योजनाओं का ज्यादा से ज्यादा फायदा उठा सकते हैं। उन्होंने कहा कि आम लोगों को तक हमारी योजनाएं पहुंचेंगी तो विकास का स्तर बढ़ेगा। बता दें कि सरकार ने लोक कल्याण मित्र को प्रदेश के हर ब्लॉक स्तरों पर तैनात कर दिया है और यह 2 साल तक के लिए आयोजित रहेगी।

त्रिपाठी ने कहा कि इस बार केंद्र सरकार में पीएम मोदी और योगी की सरकार ने गरीब लोगों के जन कल्याण के लिए जबरदस्त योजना निकाली है। प्रदेश की योगी सरकार की योजनाओं को लोकसभा चुनाव से पहले पिछड़े वर्गों तक पहुंचाया जाएगा। लोगों से कहा गया है कि इस योजना का फीडबैक भी उन्हें दिया जाए ताकि योजना की कमी को साथ ही सुधारा जाया जा सके।

बता दें लोक कल्याण योजना मित्र से जुड़े लोगों को 25,000 रुपये महीना वेतन दिया जाएगा और सलाना कॉन्ट्रेक्ट पर रखा जाएगा। कॉन्ट्रेक्ट उनके प्रदर्शन के आधार पर उनको आगे बढ़ाया जाएगा। 5000 रुपये ग्रामीण क्षेत्रों में आने-जाने के लिए यात्रा का खर्च दिया जाएगा। जिसको मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ खुद जज़ करेंगे। लोक कल्याण मित्रों के लिए 822 लोगों को नियुक्त किया जाएगा। जिसका चयन एक लिखित माध्यम के ज़रिए होगा। इसमें 21 से 40 वर्ष के बीच तक के युवा शामिल हो सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest Updates |