पृथ्वी ने दिखाया शानदार ‘शॉ’

विभा कुमारी, स्पोर्ट्स डेस्क।। भारत को अंडर 19 विश्व कप जिताने वाले पृथ्वी शॉ ने गुजरात में खेले जा रहे पहले टेस्ट में मैच हीरों वाली एंट्री दिखाई है। शॉ ने अपने पहले ही टेस्ट में शानदार शतक जड़कर दुनिया को बता दिया है कि अब क्रिकेट के दीवानों को पृथ्वी अपना “शॉ” दिखाने आ गए है। डेब्यू मैच के पहले ही दिन शॉ ने अपना सैकड़ा पूरा कर लिया। 134 रनों की इस पारी में शॉ ने शुरू से ही तेज खेल दिखाया। शॉ ने महज 56 गेंदों में अपना अर्धशतक लगाया। इस शतक के साथ शॉ पहले ही मैच में शतक लगाने वाले दुनिया के 104वें और भारत के 15वें क्रिकेटर बन गए। शॉ ने इस मैच में 154 गेंदों में 134 रन बनाए।
उम्र से छोटे पड़े पुराने रिकार्ड
मैच के पहले ही दिन शॉ ने शतक लगाकर कई नए रिकॉर्ड बनाए और पुराने तोड़े भी। पृथ्वी पहले मैच में सबसे तेज शतक लगाने के मामले में तीसरे नम्बर पर है। शॉ ने अपना शतक 99 गेंदों में ठोका। इस मामले में पहले पायदान पर भारतीय ओपनर शिखर धवन हैं, जिन्होंने अपना डेब्यू शतक 85 गेंदों में लगाया था। वहीं दूसरे पायदान पर वेस्टइंडीज के ड्वेन स्मिथ है जिन्होंने 93 गेंदों में अपनी सेंचुरी लगाई थी।
इसके साथ ही शॉ शतक लगाने के मामले में दूसरे सबसे कम उम्र के खिलाड़ी बनें हैं। शॉ ने अपना शतक 18 साल 329 दिन में लगाया। इस मामले में सचिन तेंदुलकर कम उम्र में शतक लगाने वाले पहले खिलाड़ी हैं। तेंदुलकर ने अपना पहला शतक महज 17साल 112 दिन के उम्र में लगाया था।
शॉ 56 गेंदों में अपना पहला अर्धशतक लगाते ही डेब्यू मैच में अर्धशतक लगाने वाले सबसे कम उम्र के तीसरे भारतीय बल्लेबाज बन गए। इससे पहले सचिन तेंदुलकर (16 साल 214 दिन) और पार्थिव पटेल (18 साल 301दिन) ने यह कारनामा सबसे कम उम्र में किया था। बता दें कि पृथ्वी शॉ ने रणजी ट्रॉफी और दलीप ट्रॉफी के डेब्यू में भी शतक ठोककर शुरूआत की थी।
लड़के में बहुत दम
शॉ के इस शतक की सभी ने बहुत तारीफ की है। भारत के पूर्व ओपनर विरेन्द्र सहवाग ने ट्विटर पर लिखा है कि ‘अभी तो बस शुरुआत है, लड़के में बहुत दम है’
वहीं कलाई के जादूगर वी.वी.एस. लक्ष्मण ने ट्वीट किया है कि ‘18 साल के लड़के को मैदान में उतरतें ही नेचुरल खेल खेलते देखना अच्छा लगा’
शॉ ने मैदान पर ही सचिन का किया हुआ ट्वीट पढ़ा और कहा ‘सर आपको बहुत-बहुत धन्यवाद। आपके इस ट्वीट के मेरे लिए बहुत मायने हैं। वे सभी टिप्स जो आपसे मुझे बचपन में मिले उनको मैंने अपनाया है’ आपको बता दें कि पृथ्वी सचिन तेंदुलकर को अपना आदर्श मानते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest Updates |