विधायक गहलोत के ठिकानों पर IT की छापेमारी के बाद एकजुट हुई पार्टी

विभा कुमारी, न्यूज डेस्क।। नवरोज के पहले ही दिन दिल्ली सरकार के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत को इनकम टैक्स की ओर से ‘छापे’ के रूप में झटका लगा है। माना ये जा रहा है कि अब ये झटका केंद्र और दिल्ली सरकार के बीच कलह का कारण भी बन सकती है।

बता दें कि दिल्ली सरकार के परिवहन मंत्री और मुख्यमंत्री केजरीवाल के चहेते विधायक कैलाश गहलोत के घर इनकम टैक्स ने बुधवार सुबह छापा मारा। इनकम टैक्स ने कैलाश के 16 ठिकानों पर छापा मारा। इसमें दिल्ली के वसंत कुंज में स्थित उनके घर समेत गुरुग्राम के ठिकाने भी शामिल हैं।

मालूम हो कि गहलोत के पास रिवेन्यू, एडमिनिस्ट्रेटिव रिफॉर्म्स, इंफॉर्मेशन एंड टेक्नोलॉजी, लॉ, जस्टिस एंड लेजिस्वेटिव, अफेयर्स और ट्रांसपोर्ट विभाग है।

इस मामले में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने केंद्र पर निशाना साधते हुए तड़के एक ट्वीट किया। ट्वीट में केजरीवाल ने नीरव मोदी और विजय माल्या के मामले को लपेटे में लेते हुए पीएम मोदी पर निशाना साधा और उनसे कुछ सवाल पूछे। केजरीवाल ने लिखा ‘मोदी जी, आपने मुझ पर, सत्येंद्र पर और मनीष पर भी तो रेड करवाई थी? उनका क्या हुआ? कुछ मिला? नहीं मिला? तो अगली रेड करने से पहले दिल्ली वालों से उनकी चुनी सरकार को निरंतर परेशान करने के लिए माफी तो मांग लीजिए?’

 गहलोत के बचाव में उतरी पूरी आम आदमी पार्टी

2017 में परिवहन मंत्री बनाए गए कैलाश गहलोत के बचाव में पूरी पार्टी उतर आई है। पार्टी ने अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट से ट्वीट करते हुए कहा ‘परिवहन मंत्री गहलोत जी के घर व उनके अलग-अलग 16 जगहों पर IT की रेड हुई है। ये ऐसी पहली घटना नहीं है, पहले भी आप के नेताओं, विधायकों व मंत्रियों पर केंद्र सरकार की एजेंसियों द्वारा रेड की गई है। हर केस के अंत में केंद्र को कोर्ट से सिवाय फटकार कुछ हासिल नहीं हुआ’

गहलोत के बचाव में आम आदमी पार्टी के आधिकारिक ट्वीटर अकाउंट के दूसरे ट्वीट में इनकम टैक्स छापेमारी का कारण ‘होम डिलीवरी ऑफ़ सर्विसज’ को लेकर गहलोत के अच्छे काम को बताया गया है। इस ट्वीट में भी इशारों-इशारों में केंद्र पर ही निशाना साधा गया है। इस ट्वीटर में लिखा है कि “पिछले 2 साल से आम आदमी पार्टी की सरकार ‘होम डिलीवरी ऑफ सर्विसेज’ पर काम कर रही है, जिसको मंत्री गहलोत देख रहे हैं। केंद्र सरकार की ब्यूरोक्रेसी ने बार-बार इसे रोकने की कोशिश की, इसके बावजूद कैलाश गहलोत जी ने इस स्कीम को लागू किया। नतीजतन आज उनके IT का छापा पड़ा”

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest Updates |