रावण दहन में बुझे कई घरों के चिराग

विभा कुमारी, न्यूज डेस्क।। देशभर में रामनवमी पर रावण दहन के साथ असत्य पर सत्य की जीत का जश्न मनाया जा रहा था। इसी बीच पंजाब के अमृतसर में एक बड़े ट्रेन हादसे से मातम फैल गया। रामनवमी पर रावण दहन देखने गए सैकड़ो लोगों को ट्रेन कुचलती हुई निकल गई है। ये दुर्घटना पजांब के जौड़ा फाटक पर उस वक्त हुई जब सैकड़ो लोग रावण दहन देखने गए थे। बताया जा रहा है कि इस इलाके में रेलवे ट्रैक के पास ही दशहरें के मेले का आयोजन किया गया था।

जानकारी के अनुसार जैसे ही रावण के पुतले को जलाया गया वैसे ही पठानकोट से अमृतसर की ओर आने वाली हावड़ा अमृतसर एक्सप्रेस तेज रफ्तार से रेलवें ट्रेक से गुजरी। रावण दहन के कारण लोगों के बीच पहले से ही अफरा-तफरी मची हुई थी। इस अफरा तफरी के चलते लोगों को संभलने का मौका नहीं मिल सका और लोग ट्रेन की चपेट में आ गए।

पंजाब के सीएम की माने तो इस हादसे में 50 से 60 लोग चपेट में आए जबकि चश्मदीदों के मुताबिक ये आंकड़ा 200 के पार का है। घटनास्थल पर राहत कार्य जारी है। घटना में हुए घायलों को अस्पताल पहुंचा दिया गया है। साथ ही पंजाब सरकार द्वारा मृतकों के परिवार को पांच-पांच लाख रुपए का मुआवजा देने का भी ऐलान किया गया है।

मौके पर मौजूद अन्य लोगों में दशहरा कमेटी और सरकार के प्रति आक्रोश भरा हुआ है। चश्मदीदों का मानना है कि मौके पर कोई सावधानी नहीं बरती गई। ट्रेन काफी तेज गति में थी साथ ही उसने हार्न भी नहीं दिया जिस कारण लोगों को संभलने का मौका नहीं मिला।

इस पूरे हादसे पर लगभग सभी बड़े नेताओं ने शोक जताते संवेदना प्रकट की है। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि अमृतसर हादसे से गहरे शोक में हूं। घटना में जो लोग मारे गए उनके प्रियजनों के प्रति मेरी गहरी संवेदनाएं हैं। मैं भगवान से प्राथर्ना करता हूं कि जो घायल हैं वो शीघ्र स्वस्थ हों।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी ने लिखा कि

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने लिखा कि

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Latest Updates |